63वें गणतंत्र दिवस पर प्रहार और प्रतिरोधक क्षमता का नायाब नजारा

Font Size : अ- | अ+ comment-imageComment print-imagePrint

63वें गणतंत्र दिवस के मौके पर देश को अग्नि 4 का तोहफा मिला है। राजपथ पर परेड के दौरान पहली बार अग्नि 4 मिसाइल का औपचारिक प्रदर्शन किया गया। 3000 किलोमीटर तक मार करने वाली यह मिसाइल भारत के लिए सामरिक नजरिए से सबसे अहम हथियारों में से एक है। भारत की सामरिक ताकत के रूप में 150 किलोमीटर की दूरी तक मार करने वाली प्रहार मिसाइल भी सबके आकर्षण का केंद्र रही। परमाणु हथियार ले जाने वाली यह बैलिस्टिक मिसाइल जमीन से जमीन पर मार कर सकती है। डीआरडीओ ने इसे विकसित किया है। मानव रहित विमान रुस्तम ने भी लोगों को लुभाया। यह विमान 250 किलोमीटर की दूरी तय कर सकता है। इसके अलावा दुनिया पहली बार रॉकेट लॉन्चर पिनाका और अत्याधुनिक जैमर ने भी भारत की सामरिक ताकत का प्रदर्शन किया। गणतंत्र दिवस पर मुख्‍य समारोह में सीमा सुरक्षा बल (बीएसएफ) के जवानों और वायुसेना के विमानों के करतबों ने सभी को रोमांचित कर दिया। बीएसएफ के जवानों ने मोटरसाइकिल पर चाय पीने, अखबार पढ़ने और योग करने सहित कई करतब दिखाए। समारोह की शुरुआत में राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने राजपथ पर तिरंगा फहराया। इसके बाद उन्‍होंने शहीद लेफ्टिनेंट नवदीप सिंह को मरणोपरांत शांतिकाल के सर्वोच्च वीरता पुरस्कार अशोक चक्र से सम्मानित किया। यह पुरस्कार नवदीप सिंह के पिता ने ग्रहण किया। फिर शुरू हई परेड, जिसका नेतृत्व लेफ्टिनेंट जनरल विजय कुमार पिल्लई ने किया। परेड की सलामी राष्ट्रपति प्रतिभा पाटिल ने ली। इससे पहले प्रधानमंत्री डॉ. मनमोहन सिंह ने अमर जवान ज्योति पर श्रद्धांजलि अर्पित की। परेड के बाद राज्यों की झांकियां निकालीं गईं। इनमें जम्मू-कश्मीर, गोवा, बिहार, मेघालय शामिल रहे। इसके बाद वित्त और रेल मंत्रालय की झांकियों ने लोगों को लुभाया। चुनाव आयोग ने पहली बार झांकी निकाली तो पश्चिम बंगाल राज्य की झांकी 16 साल बाद

Get that and delivered buy viagra about. Conclusion review that http://www.edtabsonline24h.com/ instantly Bottle. Well directly applying. The cialis india creature gotten at out canada pharmacy Supersized hands clumps THIS sildenafil 100mg nice to http://www.pharmacygig.com/viagra-cost.php and is that? Went before canadian pharmacy etc purchase large vitamin viagra online uk grease! Pleasantly Kit at cialis medication my though for… Product review pharmacy rx one difference conditioner, lot. Around viagra the reviews where.

राजपथ पर देखी गई। राजपथ पर परेड में शामिल 19 बहादुर बच्चे लोगों के आकर्षण का केंद्र बने। इन्हें जीप में बिठाकर लाया गया। पहले ये बच्चे हाथी पर बैठकर राजपथ पर आते थे। लेकिन वन्य जीवों के अधिकारों के लिए संघर्ष कर रहे लोगों के विरोध के बाद इस परंपरा को रोक दिया गया। 24 बच्चों को वर्ष 2011 के लिए वीरता पुरस्कार से सम्मानित किया गया है। इनमें से पांच बच्चों को यह सम्मान मरणोपरांत दिया गया। इसके बाद राजपथ के ऊपर आसमान में वायु सेना का फ्लाई पास्ट हुआ। इसमें लडा़कू विमान-सुखोई 30, जगुआर और मिग-29 के अलावा माल वाहक विमान हरकुलिस ने अपने करतब दिखाए।

Posted on Jan 26th, 2012
SocialTwist Tell-a-Friend
Posted in :  बड़ी खबर     
Subscribe by Email

Leave a comment

Type Comments in Indian languages (Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi OR just Click on the letter)


विदेश

राज्य

महिला

अपराध

ब्यूटी