अमेरिका ने पाकिस्तानन को दी ‘घर’ में घुसकर हमला करने की चेतावनी

Font Size : अ- | अ+ comment-imageComment print-imagePrint

वाशिंगटन. अमेरिका ने पाकिस्ताान को धमकी दी है कि यदि वह अफगानिस्ता न से सटे इलाकों में आतंकवादियों के खिलाफ कार्रवाई नहीं करता है तो अमेरिकी सेना उसकी सीमा में घुसकर आतंकियों का सफाया करेगी। अमेरिकी सेना के एक शीर्ष अधिकारी ने पाकिस्तासनी सेना को चेतावनी दी है कि पाकिस्ता नी हुक्मनरान उत्तअरी वजीरिस्ताकन में आतंकवादियों के नेटवर्क को नेस्तेनाबूद करने से इंकार करते हैं तो वह इन क्षेत्रों में ‘ग्राउंड ऑपरेशन’ शुरू करेंगे।
‘न्यू यॉर्क टाइम्सं’ ने अमेरिकी सेना के जनरल डेविड एच पेट्रॉस के हवाले से यह खबर दी है। पेट्रॉस अफगानिस्ताोन में तैनात अमेरिकी और नाटो सेनाओं के कमांडर हैं।
इससे पहले पाकिस्तानन को दी गई धमकी में अमेरिका ने कहा था कि यदि भविष्य में कोई भी आतंकी हमला हुआ, जिसके तार पाकिस्ताअन से जुड़े हों, तो उसे गंभीर परिणाम भुगतने के लिए तैयार रहना चाहिए।
अमेरिकी राष्ट्र्पति बराक ओबामा ने राष्ट्री य सुरक्षा सलाहकार जेम्सच जोंस और सीआईए प्रमुख लियोन पेनेटा को इस्ला्माबाद भेजकर पाकिस्तािन के हुक्मारानों से अपनी यह चेतावनी जाहिर कर दी है। पुस्तेक में ओबामा के फरमान का जिक्र कुछ यूं किया गया है, ‘ राष्ट्रपपति ओबामा पाकिस्ता न को यह समझाना चाहते हैं कि यदि पाकिस्ताानी आतंकी संगठन की ओर से अमेरिका पर हमला किया गया तो इसके जवाब में कुछ ऐसा होगा जिसे रोक पाना उसके वश में भी नहीं होगा।’
‘Obama’s War’ नाम की एक किताब में इसका खुलासा करते हुए है कि ओबामा ने मुंबई हमला मामले में लश्कार-ए-तैयबा के कमांडर जकीउर रहमान लखवी के खिलाफ कार्रवाई करने पर अपने अधिकारियों के मार्फत पाकिस्ता नी राष्ट्र पति आसिफ अली जरदारी को जमकर फटकार लगाई है।
अमेरिकी पत्रकार बॉब वुडवर्ड ने अपनी इस नई किताब के मुताबिक अमेरिका का आरोप है कि लखवी जेल से ही लश्क र की गतिविधियों का संचालन कर रहा है। हालांकि अमेरिकी अधिकारियों की इस ‘धमकी’ से ‘डरे’ बिना पाकिस्ताानी सैन्या प्रमुख जनरल अशफाक परवेज कयानी ने ओबामा की ओर रखी गई चार मांगों को मानने से इंकार कर दिया।
किताब में जोंस के हवाले से कहा गया है कि खुफिया जानकारी के मुताबिक लश्ककर अमेरिका पर हमले की तैयारी कर रहा है और ऐसे हमले की आशंका दिन-प्रतिदिन बढ़ती जा रही है।
किताब के मुताबिक पाकिस्ताऔन ने अपने यहां से आने-जाने वाले हवाई यात्रियों का ब्यौलरा दिए जाने की अमेरिकी मांग को यह कहते हुए ठुकरा दिया कि ऐसा करने से उसकी संप्रभुता का हनन होगा। पाकिस्ताकनी अधिकारियों की दलील थी कि ऐसा हुआ तो अमेरिका उसके खुफिया अधिकारियों की आवाजाही पर भी नजर रखने लगेगा।

Posted on Sep 28th, 2010
SocialTwist Tell-a-Friend
Posted in :  बड़ी खबर     
Subscribe by Email

Leave a comment

Type Comments in Indian languages (Press Ctrl+g to toggle between English and Hindi OR just Click on the letter)


विदेश

राज्य

महिला

अपराध

ब्यूटी