Home » घर – परिवार

घर को रंगों से सजाना

घर को रंगों से सजाना कोई आसान काम नहीं। इससे पहले जरूरी है कि आप रंगों के रचनात्मक पहलू के साथ उसकी संयोजना के बारे में भी अच्छी तरह जान लें। आप कितना भी प्रयास क्यों न कर लें, कहीं-न-कहीं मन इस बात पर कचोटता रहता है कि कुछ कमी रह गई। घर उदास लग रहा है, घर में स्पेस कम दिख रहा है, आत्मीयता की कमी है व घर की बहुत सी महत्वपूर्ण चीजें उभर कर नहीं आ रहीं। वैसे बहुत सी परेशानियों का हल है रंगों के संयोजन में। आपके भरे कमरे को खाली दिखाने व खाली कमरे को भरा दिखाने में भी रंग संयोजन...Full Story

पहले वैश्या थी टीचर

न्यूयार्क के एक स्कूल में विद्यार्थियों के माता-पिता उस समय आवाक रह गए जब स्कूल की एक शिक्षिका ने बताया कि वह इस पेशे में आने से पहले यौनकर्मी थी। समाचार पत्र ‘द न्यूयार्क पोस्ट’ के मुताबिक अध्यापन के पेशे में आने से पहले मेलीस्सा पेट्रो वेश्यावृत्ति के धंधे में लिप्त थी। वह पिछले तीन साल से ब्रोंक्स के प्राथमिक स्कूल में कला की शिक्षा दे रही है। इस कला शिक्षिका ने मेक्सिको और लंदन में किए गए अपने पहले के व्यवसाय के बारे में इंटरनेट पर ब्योरा दिया है। पेट्रो...Full Story

सावधानी

सावधानी हटी दुर्घटना घटी बच्चोका नशा आजकल सभी लोगो के मुँह से सुनने को मिलाता है कि नई जनरेशन.. नई जनरेशन, नई जनरेशन ऐसी है, नई जनरेशन वैसी है, नई जनरेशन कितनी आगे है, नई जनरेशन मे तो संस्कार ही नहीं है, नई जनरेशन असभ्य होती जा रही है… बस..बस… रुको…! सब ना जाने क्या क्या कहते है…? परन्तु क्या कभी हमने सोचा है कि इतना बदलाव कहाँ से आ रहा है हमारे अपने बच्चो मे…? सबसे पहले तो हमको यह समझ लेना होगा कि नई जनरेशन कोई आसमान से नहीं आ रही है. वह हमारे अपने बच्चे है जो नई पीढ़ियों...Full Story

विदेश

राज्य

महिला

अपराध

ब्यूटी